हैडियन जिला

ESIC की योजनाओं से अप्रैल में 10.41 लाख नए सदस्य जुड़े

फ़ॉन्ट आकार+ लेखक:एक हाथ और एक पैर का जाल स्रोत:सोंगयुआन सिटी 2022-10-04 23:33:48 मैं टिप्पणी करना चाहता हूँ(0)

कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेNitish Kumar: 10 लाख नहीं, हम इतने लाख नौकरियां देंगे, जानें क्या बोले नीतीश कुमार, इसी मुद्दे पर तेजस्वी आए थे सुर्खियों में******Highlightsस्वतंत्रता दिवस के मौके पर बिहार कि सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि हम लोगों का यह मन है कि 10 लाख की बजाय 20 लाख लोगों को सरकारी नौकरी देंगे। हाल ही में डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव से जब उनके द्वारा दिए गए 10 लाख की नौकरी के वादे पर सवाल पूछा गया था। तब तेजस्वी ने कहा ​था कि हम अभी डिप्टी सीएम हैं, जब सीएम बनेंगे तब 10 लाख लोगों को रोजगार देने की बात करेंगे। उनके इस वक्तव्य के बाद वे काफी चर्चा में आए। उन पर बीजेपी के केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी कटाक्ष किया था।अब आज स्वतंत्रता दिवस पर नीतीश कुमार ने तेजस्वी के वादे से एक कदम और आगे बढ़कर नौकरियों पर अपने 'मन की बात' कह ​दी। उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार और नौकरी बड़ी संख्या में देंगे, अब हम लोग एक साथ हैं। हम लोगों का कंसेप्ट है कम से कम 10 लाख तो कर ही दें। इतना नौकरी और रोजगार का इंतजाम करेंगे। सरकार और सरकार से बाहर भी कि यह हो जाएगा और हम लोग का तो मन है कि इसको 20 लाख तक पहुंचा दें।जितना खर्च होगा करेंगे, लेकिन जातिगत जनगणना करेंगेस्वतंत्रता दिवस पर अपने संबोधन में नीतीश कुमार ने जातिगत जनगणना पर भी अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि सरकार जाति आधारित गणना करा रही है। 500 करोड़ रुपए इसके लिए खर्च किए जाएंगे। जितना खर्च होगा करेंगे, लेकिन गणना करेंगे। गणना के अलावा हर परिवार की चाहे वह किसी जाति का हो, आर्थिक स्थिति का सर्वेक्षण भी करेंगे ताकि गरीबों के उत्थान के लिए योजनाएं बनाई जा सकें।न्याय के साथ होता रहेगा विकास, नई पीढ़ी के लोग साथ हैं: नीतीशनीतीश ने कहा कि सर्वेक्षण से मिली जानकारी के आधार पर जो भी उनके लिए करना होगा करेंगे, जो मांग करनी है वह करते रहेंगे और राज्य की जो जिम्मेदारी है उसको भी करते रहेंगे। तभी न्याय के साथ विकास होता रहेगा।नीतीश कुमार ने कहा कि नई पीढ़ी के लोग अब जो हमारे साथ हैं, उपमुख्यमंत्री हैं, बहुत तेजी से सब लोग मिलकर विकास का काम आगे बढ़ाएंगे।जनसंख्या नियंत्रण पर नीतीश ने कही ये बातउन्होंने कहा कि बिहार का प्रजनन दर 2005 में 4.3% था। बाद में वह घटकर 3% हो गया और अभी की जानकारी के अनुसार ये 2.9 पर आ गया है, आगे इसे 2% तक लाया जाएगा। उन्होंने कहा कि बच्चियों को पढ़ाएंगे तो यह प्रतिशत दो पर भी पहुंच जाएग।. चाइना ने पहले एक पर सीमित किया, हालत खराब हो गई फिर दो किया। अब तीन किया है, इसलिए यह सब बेकार चीज है, असली चीज है पढ़ाना।

कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेNitish Kumar: 10 लाख नहीं, हम इतने लाख नौकरियां देंगे, जानें क्या बोले नीतीश कुमार, इसी मुद्दे पर तेजस्वी आए थे सुर्खियों में******Highlightsस्वतंत्रता दिवस के मौके पर बिहार कि सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि हम लोगों का यह मन है कि 10 लाख की बजाय 20 लाख लोगों को सरकारी नौकरी देंगे। हाल ही में डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव से जब उनके द्वारा दिए गए 10 लाख की नौकरी के वादे पर सवाल पूछा गया था। तब तेजस्वी ने कहा ​था कि हम अभी डिप्टी सीएम हैं, जब सीएम बनेंगे तब 10 लाख लोगों को रोजगार देने की बात करेंगे। उनके इस वक्तव्य के बाद वे काफी चर्चा में आए। उन पर बीजेपी के केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी कटाक्ष किया था।अब आज स्वतंत्रता दिवस पर नीतीश कुमार ने तेजस्वी के वादे से एक कदम और आगे बढ़कर नौकरियों पर अपने 'मन की बात' कह ​दी। उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार और नौकरी बड़ी संख्या में देंगे, अब हम लोग एक साथ हैं। हम लोगों का कंसेप्ट है कम से कम 10 लाख तो कर ही दें। इतना नौकरी और रोजगार का इंतजाम करेंगे। सरकार और सरकार से बाहर भी कि यह हो जाएगा और हम लोग का तो मन है कि इसको 20 लाख तक पहुंचा दें।जितना खर्च होगा करेंगे, लेकिन जातिगत जनगणना करेंगेस्वतंत्रता दिवस पर अपने संबोधन में नीतीश कुमार ने जातिगत जनगणना पर भी अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि सरकार जाति आधारित गणना करा रही है। 500 करोड़ रुपए इसके लिए खर्च किए जाएंगे। जितना खर्च होगा करेंगे, लेकिन गणना करेंगे। गणना के अलावा हर परिवार की चाहे वह किसी जाति का हो, आर्थिक स्थिति का सर्वेक्षण भी करेंगे ताकि गरीबों के उत्थान के लिए योजनाएं बनाई जा सकें।न्याय के साथ होता रहेगा विकास, नई पीढ़ी के लोग साथ हैं: नीतीशनीतीश ने कहा कि सर्वेक्षण से मिली जानकारी के आधार पर जो भी उनके लिए करना होगा करेंगे, जो मांग करनी है वह करते रहेंगे और राज्य की जो जिम्मेदारी है उसको भी करते रहेंगे। तभी न्याय के साथ विकास होता रहेगा।नीतीश कुमार ने कहा कि नई पीढ़ी के लोग अब जो हमारे साथ हैं, उपमुख्यमंत्री हैं, बहुत तेजी से सब लोग मिलकर विकास का काम आगे बढ़ाएंगे।जनसंख्या नियंत्रण पर नीतीश ने कही ये बातउन्होंने कहा कि बिहार का प्रजनन दर 2005 में 4.3% था। बाद में वह घटकर 3% हो गया और अभी की जानकारी के अनुसार ये 2.9 पर आ गया है, आगे इसे 2% तक लाया जाएगा। उन्होंने कहा कि बच्चियों को पढ़ाएंगे तो यह प्रतिशत दो पर भी पहुंच जाएग।. चाइना ने पहले एक पर सीमित किया, हालत खराब हो गई फिर दो किया। अब तीन किया है, इसलिए यह सब बेकार चीज है, असली चीज है पढ़ाना।

कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेआज से शुरू होगी Le 2 और Le Max2 की पहली फ्लैश सेल, 100 लकी कस्टमर्स को मिलेगा 100 फीसदी कैशबैक****** चीन की कंपनी LeEco के स्मार्टफोन Le2 और Le Max2 की पहली फ्लैश सेल आज से शुरु हो रही है। Le2 और Le Max2 की फ्लैश सेल क्रमश: 12 बजे और 2 बजे से शुरू होगी। इस फ्लैश सेल की खास बात यह है कि कंपनी पहले 100 कस्‍टमर्स को मोबाइल फोन खरीदने पर 100 फीसदी कैशबैक देगी। इसके अलावा इस सेल में स्मार्टफोन खरीदने वाले ग्राहकों को SBI क्रेडिट कार्ड पर 10 फीसदी कैशबैक, 1,990 रुपये के फ्री ईयरफोन और 4,900 रुपये की लइको मेंबरशिप मिलेगी।सुपरफोन के अलावा भारत में लीमॉल गैजेट्स और ऑडियो एसेसरीज की विस्‍तृत श्रृंखला भी पेश करेगी, जिसमें लीईको के ब्‍लूटूथ हेडफोंस और स्‍पीकर, रिवर्स इन-ईयर हेडफोंस, ऑल मेडल इयरफोंस और टाइप-सी कंटीनुअल डिजिटल लॉसलेस ऑडियो इयरफोंस शामिल हैं।LeEco Le 2LeEco इंडिया के अधिकारी अतुल जैन ने अपने बयान में कहा, “हमें विश्वास है कि अपनी श्रेणी में सर्वोत्तम खूबियों और डिजाइन के कारण हमारे दूसरी पीढ़ी के स्मार्टफोन फ्लिपकार्ट पर ई-कॉमर्स वेबसाइट एलईमॉल टॉप सेलर रहेंगे। दुनिया की पहली CDLA प्रौद्योगिकी और आकर्षक कंटेंट मेंबरशिप कार्यक्रम के साथ यह फोन अतुलनीय है।”कंपनी के मुताबिक LeMall दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा स्‍मार्टफोन मार्केट है। लीमॉल को सबसे पहले 2013 में चीन में लॉन्‍च किया गया था। चीन, अमेरिका और हांगकांग में यह प्रमुख ई-कॉमर्स वेबसाइट बन चुकी है। लीमॉल भारत में भी इसी तरह की सफलता को दोहराना चाहती है। इस साल 22-24 जनवरी को लीमॉल को लीमॉल के लिए 30,000 साइन अप मिले हैं, लीमॉल के यूएस रजिस्‍ट्रेशन की कुल संख्‍या बढ़कर 60,000 हो गई है। हांगकांग में लीमॉल ने इस साल 13 जनवरी को 12,423 सुपरफोन की बिक्री की थी।कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेफीफा विश्व कप को 3.5 अरब से अधिक लोगों ने देखा******पेरिस। रूस में इस साल हुए फीफा विश्व कप को टीवी या फिर डिजिटल प्लेटफॉर्म पर करीब 3.5 अरब से अधिक लोगों ने देखा। फीफा ने शुक्रवार को यह जानकारी साझा की। समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, टूर्नामेंट के आधिकारिक प्रसारण करने वाले चैनल ने दर्शकों से हासिल आंकड़ों के हवाले से बताया कि इस साल 15 जून से 15 जुलाई तक हुए फीफा विश्व कप को रिकॉर्ड 3.572 अरब लोगों ने देखा।वैश्विक स्तर पर टीवी पर कम से कम एक मिनट का कवरेज देखने वाले लोगों की संख्या 3.262 अरब रही और करीब 30.97 करोड़ जनता ने डिजिटल प्लेटफॉर्म पर विश्व कप का लुत्फ उठाया। फ्रांस और क्रोएशिया के बीच हुए फाइनल मैच के कम से कम एक मिनट के कवरेज को 1.12 अरब लोगों ने देखा। टीवी पर 88.437 करोड़ जबकि डिजिटल माध्यम के जरिए 23.182 करोड़ लोगों ने फाइनल मुकाबला देखा।यह रिपोर्ट पूरे विश्व के बाजार में मौजूद आधिकारिक टीवी लेखा परीक्षा एजेंसियों द्वारा एकत्र की गई शेड्यूलिंग और ऑडियंस के आंकड़ों पर आधारित है। इससे यह भी जानकारी मिली कि पिछले विश्व कप की तुलना में इस बार लोगों ने अधिक समय तक टीवी पर टूर्नामेंट को देखा।रूस में हुए फीफा विश्व कप को कम से कम तीन मिनट के लिए 3.04 अरब लोगों ने देखा जोकि 2014 में ब्राजील में हुए टूर्नामेंट से 10.9 प्रतिशत अधिक है। कम से कम 30 मिनट तक टूर्नामेंट की कवरेज को देखने वाले लोगों की संख्या 1.95 अरब से बढ़कर 2.49 अरब हुई।फीफा के कमर्शियल ऑफिसर फिलिप ले फ्लोच ने कहा, "हमें यह देखकर बहुत खुशी हुई है कि मैच को अधिक समय तक देखने वाले लोगों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। इससे यह जाहिर होता है कि हम प्रशंसकों को अपेक्षा अनुसार चीजें दे रहे हैं। साथ यह भी देखना रोचक रहा कि दुनिया के हर कोने में फुटबाल देखने वालों की संख्या में इजाफा हुआ है।"

ESIC की योजनाओं से अप्रैल में 10.41 लाख नए सदस्य जुड़े

कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेये 10 ऐप्स आपके स्मार्टफोन को बना देंगी और भी स्मार्ट****** पिछले कुछ सालों के दौरान ने इन्सान की जिंदगी को बदलकर रख दिया है। कह सकते हैं कि स्मार्टफोन ने सारी दुनिया की जानकारी यूज़र्स की मुट्ठी में कैद कर दी है। अब आपको न्यूज़ पढ़नी हो या सोशल मीडिया पर पोस्ट डालनी हो या फिर किसी ई-कॉमर्स साइट से कोई चीज़ खरीदनी हो, ये सब काम आप अपने स्मार्टफोन के ज़रिए आसानी से कर सकते हैं। इतना ही नहीं इसके अलावा भी कई काम आप अपने मोबाइल फोन से कर सकते हैं, लेकिन उसके लिए आपको मोबाइल ऐप्स डाउनलोड करनी होंगी। कुछ मोबाइल ऐप्स बिल्कुल मुफ्त होती हैं, जबकि कई मोबाइल ऐप्स ऐसी भी होती हैं, जिनके लिए आपको पैसे खर्च करने होते हैं। आइए हम आपको बताते हैं ऐसी 10 फ्री मोबाइल ऐप्स के बारे में, जो आपकी डे-टू-डे लाइफ के लिए बहुत यूज़फुल साबित होंगी।इस के जरिए आप मोबाइल फोन रीचार्ज, डीटीएच रीचार्ज और फ्लाइट की बुकिंग भी कर सकते हैं। इस एप को आप एप्पल स्टोर या गूगल प्ले स्टोर से, ब्लैकबेरी एप वर्ल्ड और ओवी एप स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। साइज: 501K एंड्रॉइड: 1.6 इन्स्टॉल: 50 लाख से ज्यादा रेटिंग: 4.2कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेअमेरिकी राष्‍ट्रपति के भारत पहुंचने पर मुकेश अंबानी ने कही ये बात, ट्रंप 2020 में देखेंगे एकदम अलग भारत******Reliance Industries chairman Mukesh Ambani. भारत के दिग्गज कारोबारी मुकेश अंबानी ने अमेरिकी राष्ट्रपति के भारत दौरे को लेकर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। मुकेश अंबानी ने कहा है कि डोनाल्ड ट्रंप 2020 में जो भारत देखेंगे, वह कार्टर, क्लिंटन और यहां तक कि ओबामा ने जो भारत देखा है, उससे अलग होगा।साथ ही ने कहा कि 38 करोड़ लोग जियो की 4-जी प्रौद्योगिकी अपना चुके हैं, जियो लोगों का आंदोलन बन गया है।मुकेश अंबानी ने कहा कि भारत में जमीनी स्तर पर उद्यमिता की ताकत विराट है। इस बात में कोई संदेह नहीं है कि हम दुनिया की शीर्ष तीन अर्थव्यवस्थाओं में होंगे।मुकेश अबानी ने कहा कि'भारत में अभी गेमिंग का अस्तित्व नहीं। संगीत और फिल्मों दोनों को मिला दिया जाए, तो भी गेमिंग क्षेत्र अधिक बड़ा है।' उन्होंने कहा किभारत में हमारे पास एक प्रमुख डिजिटल समाज बनने का मौका है। गौरतलब है कि मुकेश अंबनीकी रिलायंस इंडस्ट्रीज को कर्ज मुक्त बनाने की योजना है।मुकेश अंबानी द्वारा 2021 की शुरुआत में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड को शुद्ध ऋण से मुक्त करने के लिए एक रोड मैप तैयार करने के छह महीने बाद, उनकी योजना ने सरकार को धन्यवाद दिया है।कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेटीएमसी के पूर्व सांसद एवं बंगाली फिल्मों के अभिनेता तपस पॉल का निधन******तृणमूल कांग्रेस के पूर्व सांसद एवं बंगाली फिल्मों के जाने माने अभिनेता तपस पॉल का आज तड़के दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह 61 साल के थे। परिवारिक सूत्रों ने बताया कि पॉल अपनी बेटी से मिलने मुम्बई गए थे। कोलकाता लौटते समय मुम्बई हवाई अड्डे पर उन्होंने सीने में दर्द की शिकायत की जिसके बाद उन्हें जुहू के एक अस्पताल ले जाया गया,जहां सुबह करीब चार बजे उनका निधन हो गया।उन्हें हृदय संबंधी बीमारियां थीं और पिछले दो साल से लगातार उनका इलाज चल रहा था। पॉल कृष्णानगर से दो बार सांसद और अलीपुर से विधायक रह चुके हैं। उनके परिवार में पत्नी और एक बेटी है।सीबीआई ने 2016 में रोज़ वैली चिटफंड मामले में उन्हें गिरफ्तार किया था और करीब 13 महीने बाद उन्हें जमानत मिली थी। इसके बाद से ही उन्होंने फिल्मों से दूरी बना ली थी।उन्होंने ‘साहेब’ (1981), ‘परबत प्रिया’ (1984), ‘भालोबाशा भालोबाशा’ (1985), ‘अनुरागर चोयन’ (1986) और ‘अमर बंधन’ (1986) जैसी कई हिट फिल्में दी। फिल्म ‘साहेब’ (1981) के लिए उन्हें ‘फिल्मफेयर’ पुरस्कार भी मिला था।

ESIC की योजनाओं से अप्रैल में 10.41 लाख नए सदस्य जुड़े

कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेआज अमेजन पर शुरू होगी Redmi 4 की फ्लैश सेल, कीमत 6,999 रुपए से है शुरू****** चाइनीज स्‍मार्टफोन निर्माता कंपनी Xiaomi के हाल में लॉन्‍च हुए फोन Redmi 4 का भारत में इंजतार आज खत्‍म होने जा रहा है। आज यानि 23 मई को फोन की पहली फ्लैश सेल अमेजन इंडिया पर दोपहर 12 बजे शुरू होने जा रही है। कंपनी ने इसकी एक्‍सक्‍लूसिव ऑनलाइन बिक्री के लिए ई-कॉमर्स साइट अमेजन के साथ करार किया है।Xiaomi ने Redmi 4 को भारत में 3 वैरिएंट के साथ उतारा है। सबसे सस्‍ता मॉडल 2GB रैम और 16GB स्टोरेज वाला है। इसकी कीमत 6,999 रुपए होगी। वहीं, दूसरा वेरिएंट 3GB रैम और 32GB स्टोरज वाला है जिसकी कीमत 8999 रुपए है। वहीं तीसरा वेरिएंट 4GB रैम और 64GB स्टोरेज वाला है, जिसकी कीमत 10,999 रुपए है।फ्लिपकार्ट पर लिस्‍ट हुआ नोकिया 3310 जैसा दिखने वाला ‘डारगो 3310’, कीमत 799 रुपएsmartphones supporting reliance 4gकंपनी अपने लॉन्चिंग ऑफर के साथ कई ऑफर भी पेश कर रही है। जिसके तहत फोन का ऑरिजनल कवर 499 रुपए की बजाए 349 रुपए में उपलब्ध होगा। इसके अलावा यस बैंक का क्रेडिट या डेबिट कार्ड इस्तेमाल करने पर 500 रुपए का फ्लैट कैशबैक मिलेगा। वहीं गोआईबीबो पर फ्लाइट और होटल बुकिंग पर 5,000 रुपए तक की छूट मिलेगी। Xiaomi Redmi 4 खरीदने पर वोडाफोन 5 महीने के लिए 45 जीबी डेटा मुफ्त देगी। साथ ही किंडल ऐप डाउनलोड करके साइन करने पर किंडल बुक्स खरीदने के लिए 200 रुपए का प्रमोशन क्रेडिट मिलेगा।शुरू हुई Samsung Z4 स्‍मार्टफोन की बिक्री, टाइजन OS पर चलने वाले इस हैंडसेट की कीमत है 5,790 रुपएफोन के स्‍पेसिफिकेशंस की बात करें तो इसमें 5 इंच का HD डिस्प्ले दिया गया है। इस पर 2.5D कर्व्ड ग्लास डिस्प्ले की सुरक्षा दी गई है। स्‍क्रीन का रिजोल्‍यूशंस 1280 x 720 पिक्सल है। यूजर्स के पास इंटरनल स्‍टोरेज को माइक्रोएसडी कार्ड की मदद से 128GB तक बढ़ाने का विकल्‍प भी दिया गया है। पावर बैकअप के लिए इसमें 4,100 mAh की नॉन-रिमूवेबल बैटरी दी गई है। इसमें 13MP का प्राइमरी कैमरा दिया गया है। वहीं सेल्‍फी के लिए इसमें 5MP का फ्रंट कैमरा दिया गया है।कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेPathaan: बॉलीवुड में 30 साल पूरे होने पर शाहरुख खान ने शेयर किया पठान का दमदार लुक, इस अंदाज में नजर आए किंग खान******Highlightsहिंदी सिनेमा जगत के सुपरस्टार (Shah Rukh Khan)ने बॉलीवुड में 30 साल पूरे होने पर अपने फैंस को खास तोहफा देते हुए अपनी बहुप्रतीक्षित फिल्म 'पठान' की रिलीज डेट की घोषणा कर दी है। किंग खान ने अपने अपने लुक का खुलासा करते हुए सोशल मीडिया पर मोशन पोस्टर भी शेयर किया है।इस पोस्टर में शाहरुख डेंजरस लुक में नजर आ रहे हैं। पोस्टर शेयर करते हुए शाहरुख खान ने कैप्शन में लिखा - '30 साल....आपका प्यार और मुस्कान अनंत है। चलिए अब 'पठान' की बात करते हैं। यह फिल्म 25 जनवरी, 2023 को हिंदी, तमिल और तेलुगू भाषा में रिलीज हो रही है।'शाहरुख के इस खास दिन के खूबसूरत जश्न के बारे में बात करते हुए, निर्देशक सिद्धार्थ आनंद ने कहा - 'शाहरुख खान के 30 साल भारतीय सिनेमा के इतिहास में अपने आप में एक सिनेमैटिक मोमेंट है और हम उनके लाखों फैंस के साथ इसे ग्लोबली सेलिब्रेट करना चाहते थे।'उन्होंने आगे कहा - 'आज शाहरुख खान का दिन है और हमें इसके बारे में दुनिया को बताने की जरूरत है। यह टीम पठान का शाहरुख को अनगिनत यादों और मुस्कुराहट के लिए धन्यवाद कहने का तरीका है जो सिनेमा में अपनी अविश्वसनीय यात्रा के दौरान उन्होंने हम सभी को दिया है।' 'पठान से शाहरुख खान का लुक बहुत सहेज कर रखा गया। दनिया भर के फैंस लंबे समय से उनके लुक को जारी करने की मांग करते रहे हैं, लेकिन हमें लगा कि इसे रिलीज करने के लिए इससे बेहतर दिन नहीं हो सकता। मुझे उम्मीद है कि लोगों को और शाहरुख के फैंस को पठान से उनका लुक पसंद आएगा।'पठान के रूप में शाहरुख के लुक के बारे में सिद्धार्थ कहते हैं, 'इस एक्शन थ्रिलर में वह 'अल्फा मैन ऑन द मिशन' हैं जो भारत में एक्शन जॉनर में नया बेंचमार्क स्थापित करेगा। जब आपकी फिल्म में शाहरुख खान, दीपिका पादुकोण और जॉन अब्राहम जैसे सुपरस्टार हों, तो आपको हर मामले में शानदार रहना होगा और मुझे नहीं लगता कि पठान के साथ हम दर्शकों को कहीं से भी निराश करेंगे।'बता दें कि इस फिल्म में शाहरुख खान के अलावा दीपिका पादुकोण और जॉन अब्राहम भी नजर आने वाले हैं। 'पठान' 25 जनवरी 2023 को हिंदी, तमिल और तेलुगू में रिलीज होगी।

ESIC की योजनाओं से अप्रैल में 10.41 लाख नए सदस्य जुड़े

कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेMann Ki Baat: 2 से 15 अगस्त तक अपनी DP पर लगाएं तिरंगा, जानें 'मन की बात' में PM मोदी ने और क्या कहा******Highlightsप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नेमन की बात के 91 वेंएपिसोड में देशवासियों को संबोधित किया।पीएम मोदी ने कहा कि, "इस बार ‘मन की बात’ बहुत खास है। इसका कारण है, देश अपनी आज़ादी के 75 वर्ष पूरे करेगा। हम सभी बहुत अद्भुत और ऐतिहासिक पल के गवाह बनने जा रहे हैं।"उन्होंने कहा कि, 31 जुलाई यानी आज ही के दिन, हम सभी देशवासी, शहीद उधम सिंह जी की शहादत को नमन करते हैं। मैं ऐसे अन्य सभी महान क्रांतिकारियों को अपनी विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं जिन्होंने देश के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया।"पीएम मोदी ने कहा कि, "आजादी के अमृत महोत्सव के तहत, 13 से 15 अगस्त तक, एक खास उत्सव - 'हर घर तिरंगा- हर घर तिरंगा' का आयोजन किया जा रहा है। इस महोत्सव का हिस्सा बनकर 13 से 15 अगस्त तक, आप, अपने घर पर तिरंगा जरूर फहराएं, या उसे अपने घर पर लगायें।"प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों से अपील करते हुए कहा कि, "2 अगस्त से 15 अगस्त तक हम सभी अपने सोशल मीडिया एकाउंट्स की डीपी में तिरंगा लगाएं। 2 अगस्त को पिंगली वेंकैया जी की जन्म-जयंती है।" गौरतलब है कि भारतीय झंडे को पिंगली वेंकैया ने ही डिजाइन किया था।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात दौरान कहा कि, "कोरोना के खिलाफ युद्ध में आयुष ने वैश्विक स्तर पर अहम भूमिका निभाई है। दुनिया में आयुर्वेद और भारतीय औषधियों के प्रति आकर्षण बढ़ रहा है।" उन्होंने बताया कि हाल ही में, एक Global Ayush Investment और Innovation Summit आयोजित हुई थी। इसमें लगभग 10 हजार करोड़ रुपए निवेश करने के प्रस्ताव मिले हैं।कार्यक्रम में बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, "मेला हमारे समाज, और हमारे जीवन की ऊर्जा का बहुत बड़ा स्त्रोत होते हैं। आधुनिक समय में समाज की ये पुरानी कड़ियाँ ‘एक भारत–श्रेष्ठ भारत’ की भावना को मजबूत करने के लिए बहुत ज़रूरी हैं।"उन्होंने बताया कि, अगले कुछ दिन में संस्कृति मंत्रालय एक प्रतियोगिता भी शुरू करने जा रही है, जहां मेलों की सबसे अच्छी तस्वीरें भेजने वालों को इनाम भी दिया जाएगा। तो फिर देर नहीं कीजिए, मेलों में घूमियें, उनकी तस्वीरें साझा करिए, और हो सकता है आपको इसका ईनाम भी मिल जाए।"

कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 अगस्त को करेंगे इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक का शुभारंभ, देशभर में होंगी 650 शाखाएं******India Post Payments Bank 21 अगस्त को बहुप्रतीक्षित का शुभारंभ करेंगे। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की प्रत्येक जिले में कम से कम एक शाखा होगी और यह ग्रामीण क्षेत्रों में वित्तीय सेवाओं पर ध्यान केंद्रित करेगा। संचार मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने आईपीपीबी के उद्घाटन के लिए 21 अगस्त को समय दिया है। बैंक की दो शाखाएं पहले से परिचालन में हैं। शेष 648 शाखाएं देश के प्रत्येक जिले में शुरू की जाएंगी। अधिकारी ने कहा कि आईपीपीबी 1.55 लाख डाकघर शाखाओं के जरिए ग्रामीण इलाकों के लोगों को बैंकिंग और वित्तीय सेवाएं उपलब्ध कराएगा।अधिकारी ने कहा कि सरकार इस साल के अंत 1.55 लाख डाकघर शाखाओं को आईपीपीबी सेवाओं से जोड़ने का प्रयास कर रही है। इससे देश का सबसे बड़ा बैंकिंग नेटवर्क अस्तित्व में आएगा जिसकी गांवों के स्तर तक मौजूदगी होगी।आईपीपीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुरेश सेठी ने पिछले सप्ताह कहा था कि आईपीपीबी 650 शाखाओं के साथ शुरू होगा। इसके अतिरिक्त डाकघरों में 3,250 एक्सेस पॉइंट होंगे और साथ ही 11,000 डाकिये होंगे। ये ग्रामीण और शहरी इलाकों दोनों में घर के दरवाजे पर बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराएंगे। आईपीपीबी को 17 करोड़ डाक बचत बैंक खाते को अपने खाते से जोड़ने की अनुमति है।कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेStock Market update: Sensex और Nifty में मामूली बढ़त, ये मुद्दे बाजार पर डालेंगे असर******BSE SENSEX कारोबारी सप्ताहके पहले दिन में सुस्ती के बीच और में सुस्त शुरुआतहुईहै। साथ ही रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के डिप्‍टी गवर्नर के इस्‍तीफे की खबर के बीच भी भारतीय शेयर बाजार सुस्‍त है। शुरुआती कारोबार में सेंसेक्‍स में मामूली बढ़त रही लेकिन कुछ देर बाद ही यह लाल निशान पर आ गया। यही स्थिति निफ्टी के साथ भी देखने को मिली। करीब 10 बजे सेंसेक्‍स 66 अंक टूटकर 39,130 के नीचे था तो वहीं निफ्टी 20 अंक लुढ़क कर 11,700 के स्‍तर पर आ गया।बीते हफ्ते शुक्रवार को सेंसेक्स करीब 407 अंक टूटकर 39200 के नीचे 39194 के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 108 अंकों की गिरावट के साथ 11750 से नीचे आ गया और 11724 के स्तर पर बंद हुआ था। निफ्टी पर आटो और फार्मा इंडेक्स 1 फीसदी से ज्यादा गिरावट रही है। H1B वीजा पर अमेरिका के पॉजिटिव बयान से आईटी में शुरूआत में हल्की तेजी आई, लेकिन अंत में आईटी इंडेक्स भी लाल निशान में बुद हुआ। निफ्टी पर पीएसयू बैंक को छोड़कर सभी प्रमुख 10 इंडेक्स में गिरावट रही। सेंसेक्स के 30 में से 24 शेयर लाल निशान में बंद हुए।आज सोमवार को रुपए में 5 पैसे की कमजोरी देखी जा रही है। डॉलर के मुकाबले रुपया 69.60 के स्तर पर ट्रेड कर रहा है। इसके पहले शुक्रवार को रुपया 11 पैसे कमजोर होकर 69.55 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। हालांकि शुक्रवार को रुपये की शुरूआत 31 पैसे की कमजोरी के साथ 69.75 के भाव पर हुई थी, लेकिन बाद में डॉलर की डिमांड घटने से रुपये में रिकवरी आई। हालांकि बाजार की गिरावट से रुपये को ज्यादा सपोर्ट नहीं मिल पाया।घरेलू शेयर बाजार पर इस सप्ताह भी भूराजनीतिक तनाव और अमेरिका,चीन और ईरान के बीच विवाद से संबंधित घटनाक्रमों का असर देखने को मिल सकता है।बीते कुछ दिनों से अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। उधर, जापान में सप्ताह के आखिर में होने जा रहे जी-20 शिखर सम्मेलन में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और चीन के राष्ट्रपति के बीच मुलाकात पर दुनियाभर की नजर है, जहां दोनों देशों के बीच व्यापारिक मसलों का समाधान करने की दिशा में पहल की संभावना है। इसके अलावा मॉनसून की प्रगति और आगामी बजट पर निवेशकों की नजर है।

कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेPallonji Mistry: मशहूर बिजनेसमैन पालोनजी मिस्त्री का निधन, 93 साल की उम्र में ली आखिरी सांस******Highlightsकंस्ट्रक्शन सेक्टर के प्रमुख बिजनेसमैन और शापोरजी पालोनजी ग्रुप (Shapoorji Pallonji Group) के चेयरमैन रहे पालोनजी मिस्त्री का निधन हो गया है। वह 93 साल के थे और सोमवार रात उन्होंने मुंबई में आखिरी सांस ली। गौरतलब है कि शापोरजी पालोनजी ग्रुप को कंस्ट्रक्शन सेक्टर का महारथी माना जाता है। बिजनेस की दुनिया में पालोनजी मिस्त्री को काफी सम्मान दिया जाता था। वह सार्वजनिक मंचों पर नहीं आते थे और उन्हें दुनिया के सबसे गुमनाम अरबपतियों में से एक माना जाता रहा है।पालोनजी के निधन पर पीएम मोदी ने दुख जताया है। उन्होंने कहा, 'पालोनजी मिस्त्री के निधन से दुखी हूं। उन्होंने वाणिज्य और उद्योग की दुनिया में महत्वपूर्ण योगदान दिया। उनके परिवार, दोस्तों और अनगिनत शुभचिंतकों के प्रति मेरी संवेदनाएं। उनकी आत्मा को शांति मिले।'केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने उनके निधन पर दुख जताते हुए ट्वीट किया, 'पालोनजी मिस्त्री, एक युग का अंत। जीवन की सबसे बड़ी खुशियों में से एक उनकी प्रतिभा, काम पर उनकी सज्जनता को देखना था। परिवार और उनके प्रियजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं।'आयरिश महिला से की थी पालोनजी ने शादी, इतनी थी नेटवर्थपालोनजी ने एक आयरिश महिला से शादी की थी। इसके बाद वह आयरलैंड के नागरिक हो गए थे। हालांकि वह मुंबई के वाकव्श्वर में सागर किनारे वाले बंगले में काफी समय बिताते थे। फोर्ब्स के मुताबिक, पालोनजी की नेटवर्थ करीब 13 बिलियन डॉलर थी। वह अरबपतियों की लिस्ट में दुनियाभर में 125वें पायदान पर थे।आयरलैंड में पालोनजी के पास थी सबसे ज्यादा दौलतचूंकि पालोनजी आयरलैंड के नागरिक हो गए थे, इसलिए यह भी जानना जरूरी है कि वह आयरलैंड के सबसे अमीर आदमियों में से एक थे। हालांकि पालोनजी का जन्म गुजरात के एक पारसी परिवार में हुआ था। उन्हें साल 2016 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।शापोरजी मिस्त्री संभालते थे पिता की विरासतशापोरजी पालोनजी ग्रुप की कमान उनके बड़े बेटे शापोरजी मिस्त्री संभालते हैं। शापोरजी पालोनजी ग्रुप की स्थापना साल 1865 में की गई थी। ये ग्रुप कंस्ट्रक्शन, इंजीनियरिंग, रियल एस्टेट, इंफ्रास्ट्रक्चर, ऊर्जा, जल और वित्तीय सेवाओं के सेक्टर्स पर काम करता है। इस ग्रुप का कारोबार 50 देशों में फैला हुआ है।कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेप्रदूषण: सुप्रीम कोर्ट ने पर्यावरण मंत्रालय पर 2 लाख रुपये का जुर्माना लगाया******दिल्ली और एनसीआर में में कमी लाने के संबंध में 34 श्रेणियों के उद्योगों के लिए सल्फर डाइऑक्साइड और नाइट्रोजन ऑक्साइड के उत्सर्जन का मानदंड तय न करने को लेकर सर्वोच्च न्यायालय ने मंगलवार को पर्यावरण मंत्रालय पर 2 लाख रुपये का जुर्माना लगाया। ये उत्सर्जन मानक उन उद्योगों के लिए महत्वपूर्ण हैं, जो उवर्रक, नाइट्रिक एसिड और अन्य खतरनाक चीजों का उत्पादन करते हैं, और जिसमें पेट कोक और फर्नेस तेल का प्रयोग होता है।न्यायमूर्ति मदन बी. लोकुर और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की खंडपीठ ने पर्यावरण और वन मंत्रालय द्वारा 23 अक्टूबर को जारी किए गए मसौदे को अपवाद करार देते हुए मानक जारी करने में हुई देरी को 'आलसी और सुस्त' करार दिया। अदालत ने कहा कि अगर जुर्माने की रकम 2 लाख रुपये नहीं चुकाए जाते हैं तो इसके गंभीर परिणाम होंगे।अदालत ने इस पर 'आश्चर्य' व्यक्त किया कि इस साल की 27 जून को दिए गए केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की सिफारिशों पर मंत्रालय कुंडली मारकर बैठा रहा। जो मसौदा 23 अक्टूबर को जारी किया गया है, उस पर जनता को आपत्तियां दर्ज कराने के लिए 60 दिनों का समय दिया गया है। इसके बाद मंत्रालय उत्सर्जन मानदंडों को तय करने से पहले इस संबंध में मिली आपत्तियों की जांच करेगा, जोकि साल 2018 के फरवरी के पहले नहीं हो सकेगा।

कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेShreyas Iyer: श्रेयस अय्यर ने फिर किया निराश, सोशल मीडिया पर दीपक हुड्डा के लिए उठी आवाज******Highlights: भारतीय टीम को श्रेयस अय्यर से काफी उम्मीदें थीं और शायद हैं भी लेकिन वह खुद को उन उम्मीदों पर खरा साबित नहीं कर पा रहे हैं। चाहें इंग्लैंड के खिलाफ बर्मिंघम टेस्ट में उनका प्रदर्शन हो या टी20 सीरीज में, हर मौके पर उन्होंने पिछले कुछ दिनों से निराश ही किया है। खासतौर से तेज गेंदबाजों के सामने उनकी जो एक कमी उभरकर आ रही है वह है शॉर्ट पिच गेंदें। ऐसा ही इंग्लैंड के दौरे पर दिखा। उनके प्रदर्शन से टीम मैनेजमेंट ही नहीं फैंस भी काफी निराश दिखे हैं। सोशल मीडिया पर दीपक हुड्डा को उनकी जगह खिलाने की भी आवाज उठी है।दीपक हुड्डा ने हाल के दिनों में शानदार प्रदर्शन किया है। उन्होंने आयरलैंड में ताबड़तोड़ शतकीय पारी भी खेली थी। ऐसे में सोशल मीडिया पर कई यूजर्स श्रेयस अय्यर की जगह दीपक हुड्डा को टीम में शामिल करने की बात कहते नजर आए। एक यूजर ने लिखा कि, श्रेयस अय्यर भारत की टी20 वर्ल्ड कप की टीम में फिट नहीं बैठते हैं। जबकि उनसे बेहतर बल्लेबाज दीपक हुड्डा को बाहर बैठना पड़ रहा है। भारत के पूर्व तेज गेंदबाज और बॉलिंग कोच रह चुके वेंकटेश प्रसाद ने भी ट्वीट कर सेम यही बात कही।श्रेयस अय्यर की बात करें तो वह पिछले कुछ समय से तेज गेंदबाजों के सामने जूझते नजर आ रहे हैं। मौजूदा इंग्लैंड दौरे पर भी उनकी शॉर्ट पिच गेंदों के सामने दिक्कतें उभरकर सामने आई हैं। इसके अलावा अगर आंकड़ों पर नजर डालें तो स्पिन के खिलाफ उनका पिछले 6 टी20 इंटरनेशनल मुकाबलों में रिकॉर्ड शानदार रहा है। वहीं तेज गेंदबाजों के सामने उनका स्ट्राइक रेट 100 का भी नहीं रहता है साथ ही वह ज्यादार आउट भी पेस बॉल पर होते हैं। टेस्ट मैच में भी इंग्लैंड के पेसर्स ने उन्हें जमकर बाउंसर से परेशान किया था।श्रेयस अय्यर अपने फॉर्म को लेकर स्थिरता नहीं दिखा पाए हैं। उन्होंने करीब 5 साल पहले 2017 में अपना इंटरनेशनल डेब्यू किया था। अभी तक वह सिर्फ भारत के लिए 5 टेस्ट, 26 वनडे और 42 टी20 इंटरनेशनल मुकाबले ही खेल पाए हैं। उन्होंने 422 टेस्ट रन, 947 वनडे और 931 टी20 रन अपने करियर में बनाए हैं। इसके अलावा आईपीएल में अय्यर ने 101 मुकाबले खेलते हुए 2776 रन बनाए हैं। मौजूदा समय में वह कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान भी हैं। इससे पहले वह दिल्ली कैपिटल्स की भी कप्तानी कर चुके हैं।कीयोजनाओंसेअप्रैलमें1041लाखनएसदस्यजुड़ेChanakya Niti: ऐसे लोग धरती पर होते हैं बोझ, इनसे तुरंत ही बना लें दूरी******Highlightsकौटिल्य और विष्णुगुप्त के नाम से प्रसिद्ध आचार्य चाणक्य विलक्षण प्रतिभा के धनी थे और असाधारण और बुद्धि के स्वामी थे। आचार्य चाणक्य ने अपने बुद्धि कौशल का परिचय देते हुए ही चंद्रगुप्त मौर्य को सम्राट बनाया था। आचार्य चाणक्य हमेशा दूसरों के हित के लिए बात करते थे। ने अपनी एक नीति में उन लोगों के बारे में विस्तार से बताया है जो इस दुनिया में एक बोझ के समान होते हैं। इनसे साथ रहने से दूसरा व्यक्ति पर भी बुरा असर पड़ता है। येषां न विद्या न तपो न दानंज्ञानं न शीलं न गुणो न धर्मः।ते मर्त्यलोके भुवि भारभूतामनुष्यरूपेण मृगाश्चरन्ति ॥जिन लोगों ने न तो विद्या हो, न ही तपस्या में लीन रहे, न ही दान के कार्यों में लगे, न ही ज्ञान अर्जित किया हो, न ही अच्छा आचरण करते, न ही गुणों को अर्जित किया है और न ही धार्मिक अनुष्ठान किया हो। ऐसे लोग इस मृत्युलोक में मनुष्य के रूप में मृगों की तरह भटकते रहते हैं और ऐसे लोग इस धरती पर भार की तरह होते हैं।आचार्य चाणक्य के अनुसार, जो लोग विद्या ग्रहण नहीं करते हैं वो लोग किसी भी निर्णय को लेने में असफल होते हैं। इतना ही नहीं दूसरों को सामने किसी न किसी कारण शर्मिंदा होना पड़ता है। वहीं दान करने से इसका पुण्य कई गुना बढ़ जाता है। इसके साथ ही दान देने वाले व्यक्ति के मान सम्मान में वृद्धि होती है और समाज में ऊंचा दर्जा मिलता है। ऐसे में जो व्यक्ति ऐसा नहीं करता है उसका समाज में मान-सम्मान बिल्कुल नहीं होता है।आचार्य चाणक्य के अनुसार, व्यक्ति को सम्मान और धन तभी मिलता है जब वह श्रेष्ठ गुणों को अपनाकर दूसरों के साथ अच्छा आचरण प्रस्तुत करता है। लेकिन जो व्यक्ति ऐसा नहीं करता है उसका कोई भी सम्मान नहीं करता है। इसके साथ ही वह किसी भी सूरत में अपने लक्ष्य को पा नहीं सकता है।

1. यह साइट उद्योग के मानदंडों का पालन करती है, और कोई भी पुनर्मुद्रित पांडुलिपि स्पष्ट रूप से लेखक और स्रोत को इंगित करेगी; 2. इस साइट पर मूल लेखों के लिए, कृपया लेखक और लेख के स्रोत को पुनर्मुद्रण करते समय इंगित करना सुनिश्चित करें, और हमें जवाबदेह ठहराया जाएगा उन व्यवहारों के लिए जो मौलिकता का सम्मान नहीं करते हैं; 3. लेखक प्रस्तुतियाँ हमारे संपादकों द्वारा संशोधित या पूरक की जा सकती हैं।

संबंधित आलेख
  • India Post GDS Recruitment 2020: 10वीं पास के लिए नौकरी का बड़ा मौका, 4000 से ज्यादा पदों पर वैकेंसी

    India Post GDS Recruitment 2020: 10वीं पास के लिए नौकरी का बड़ा मौका, 4000 से ज्यादा पदों पर वैकेंसी

    2022-10-04 23:42

  • सामूहिक संहार के हथियारों की फंडिंग को रोकने से जुड़ा विधेयक लोकसभा में पेश

    सामूहिक संहार के हथियारों की फंडिंग को रोकने से जुड़ा विधेयक लोकसभा में पेश

    2022-10-04 22:49

  • Farmers Protest: मान सरकार ने निभाया वादा, आंदोलन में जान गंवाने वाले किसानों के परिजनों को दिया मुआवजा, गन्ने का बकाया भुगतान भी करेगी

    Farmers Protest: मान सरकार ने निभाया वादा, आंदोलन में जान गंवाने वाले किसानों के परिजनों को दिया मुआवजा, गन्ने का बकाया भुगतान भी करेगी

    2022-10-04 22:20

  • दिल्ली में वायु गुणवत्ता फिर ‘गंभीर’ श्रेणी में, एक्यूआई 400 के पार

    दिल्ली में वायु गुणवत्ता फिर ‘गंभीर’ श्रेणी में, एक्यूआई 400 के पार

    2022-10-04 21:19

उपयोगकर्ता टिप्पणियाँ
गर्म खबर